Helmet Guards Your Life, All the Proof You Need हेल्मेट आपकी ज़िन्दगी बचाता है, ये विडियो है सुबूत!

हेल्मेट आपकी ज़िन्दगी बचाता है, ये विडियो है सुबूत!

हेल्मेट जान बचाते हैं और पेश है इस बात का पुख्ता सुबूत की भले ही आप साइकिल, मोटरसाइकिल, या एक स्कूटर चला रहे हों, आपको हेल्मेट पहनने की ज़रुरत है. नीचे विडियो में आप दक्षिण एशिया में एक मोपेड राइडर को देख सकते हैं जो एक ट्रक और फुटपाथ के बीचे के संकरे रास्ते से निकलने की कोशिश कर रहा है.

लेकिन ये विडियो ही क्यों?

भारत में ऐसे लोग मौजूद हैं जो कई कारणों से हेल्मेट पहनने से मना कर देते हैं जिसमें बाल खराब होने से लेकर रीढ़ में दिक्कतों तक का हवाला दिया जाता है. लेकिन, हेल्मेट पहनने के फायदों से इनकार नहीं किया जा सकता और ये विडियो इस बात का सुबूत है की कभी-कभी आप और मौत के बीच में हेल्मेट का ही फर्क रहता है.

ये मोपेड राइडर फुटपाथ से टकरा कर संतुलन खो देता है एवं भारी ट्रक के चक्कों के बीच फँस जाता है. ट्रक का पिछला पहिया सीधा उस इंसान के सर के ऊपर से निकल जाता है. ट्रक का पिछला चक्का उस इंसान से सिर के ऊपर चढ़ा जाता है लेकिन सर पर हेल्मेट होने की वजह से वो इंसान सीधा उठ खड़ा होता है और वहां से निकल जाता है.

दुनियाभर में आपको रोज़ ऐसे दृश्य देखने को मिल जायेंगे. एक्सीडेंट दर के मामले में दुनिया की सबसे खतरनाक सड़कों वाले देश में से एक भारत में कई लोग 2-व्हीलर एक्सीडेंट में अपनी जान गँवा देते हैं. एक क्रैश हेल्मेट ऐसे चोटों से बचाता है एवं आपके जिंदा रहने की संभावना को बढ़ाता है.

Helmet Featured

यहाँ के एक्सीडेंट की बात करें तो इस 2-व्हीलर राइडर ने संकरी जगह से निकलने की कोशिश की और ये उसकी सबसे बड़ी गलती थी. भारी गाड़ी को ओवरटेक करते हुए पर्याप्त दूरी बनाकर रखना बेहद ज़रूरी होता है. बस और ट्रक जैसे भारी वाहन चालक अक्सर 2-व्हीलर्स और राहगीरों को इतनी आसानी से नहीं देख पाते. इसीलिए ओवरटेक करने वाले इंसान पर इस बात का दारोमदार रहता है की वो सही से रास्ता देखकर ओवरटेक करे.

पर भारत में लोगों ने अभी भी हेल्मेट के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है!

पिछले हफ्ते ही, पुणे के कुछ नागरिकों ने स्थानीय नेताओं के अध्यक्षता में हेल्मेट को अनिवार्य करने वाले नियम के विरोध में हेल्मेट का अंतिम संस्कार किया था. इन प्रदर्शनकारियों के मुताबिक़, हेल्मेट से 1. गंजापन 2. गर्दन दर्द 3. पीछे की विसिबिलिटी में कमी 4. गर्म मौसम में दिक्कत आती है.

प्रदर्शनकारियों ने ये भी बताया की शहर के धीमे रफ़्तार पर हेल्मेट की ज़रुरत नहीं होती और इसके बदले सरकार को खराब सड़कों के सुधार पर ध्यान देना चाहिए, ना की हेल्मेट के नियम से नागरिकों को परेशान करने वालों क़दमों पर. ऊपर का विडियो हेल्मेट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों के तर्क पर सवाल उठाता है. साफतौर पर, मोपेड राइडर ट्रक के नीचे धीमी रफ़्तार पर गिरता है लेकिन अगर उसने हेल्मेट ना पहना होता तो अंजाम बेहद बुरा हो सकता था.

सही हेल्मेट का चुनाव!

अब तक आपने इस बात को तो समझ ही लिया होगा की हेल्मेट 2-व्हीलर चलाने के लिए बेहद ज़रूरी है. सही हेल्मेट का चुनाव बेहद ज़रूरी है क्योंकि गलत साइज़ वाले हेल्मेट पहनने से आपको पर्याप्त और असरदार सुरक्षा नहीं मिलेगी.

  1.     हेल्मेट खरीदते हुए इस बात को सुनिश्चित कारें की आप ISI मार्क वाला हेल्मेट ही चुन रहे हैं. साथ ही, जाने-पहचाने ब्रांड के हेल्मेट ही खरीदें. जाने-माने ब्रांड पर ISI मार्किंग इस बात को सुनिश्चित करती है की हेल्मेट भार को सह लेगा एवं आपको चोट से बचाएगा.
  2.     हेल्मेट का फिट सबसे बड़ी बात है. हेल्मेट के अन्दर की सुरक्षा वाली कुशनिंग जो टक्कर को सहने में मदद करती है और इसका बाहरी खोल समय के साथ दबता जाता है. इसी लिए आपको ऐसे हेल्मेट को खरीदना चाहिए जो आपके सर पर सही से फिट बैठे. इसे ढीला नहीं होना चाहिए या ज़्यादा टाइट नहीं होना चाहिए. खरीदने से पहले कई हेल्मेट पहन कर देखना अच्छा ऑप्शन रहेगा.
×

Subscibe our Newsletter