Royal Enfield Classic पर Harley Davidson का साइलेंसर; क्या होगा परिणाम?

इंडिया में मोटरसाइकिल्स के लिए सबसे आम मॉडिफिकेशन है एक आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट. ऐसे लगभग सभी आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट गैरकानूनी हैं क्योंकि वो आम एग्जॉस्ट से ज्यादा आवाज़ करते हैं. लेकिन, इनमें से कुछ की आवाज़ अच्छी होती है और पुलिस इन Royal Enfield राइडर्स को आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट के लिए नहीं रोकती. पेश है एक यूट्यूबर जिसने अपने Royal Enfield Classic में Harley Davidson का एग्जॉस्ट लगाया है.

कम आरपीएम पर Harley Davidson का एग्जॉस्ट काफी अच्छा आवाज़ करती है और ये Royal Enfield Classic को लगभग एक स्थिर खड़ी Harley जैसा आवाज़ देती है. लेकिन हाई रेव पर Royal Enfield के सिंगल सिलिंडर का पॉवर अपनी मौजूदगी का एहसास कराता है और ये आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट फिर एक सीधे पाइप सा आवाज़ निकालती है. इसलिए क्लासिक Harley Davidson की आवाज़ के लिए आपको असल में एक एयर-कूल्ड Harley खरीदनी होगी.

यही कारण है की Harley Davidson का एग्जॉस्ट नोट इतना नायब होता है. ये इसके स्लो-रेव वाले V-Twin एयर-कूल्ड इंजन की वजह से होता है, और ये कुछ ऐसा है जिसकी नक़ल सिंगल सिलिंडर इंजन अपने लम्बे स्ट्रोक और लेज़ी रेव डिजाईन के बावजूद नहीं कर पाते. Harley Davidson ने अपने एग्जॉस्ट के नोट को फाइन-ट्यून करने में सैंकड़ो घंटे बिताये हैं. ये नोट अब हर एयर-कूल्ड Harley Davidson मोटरसाइकिल की पहचान बन चुकी है.

इसी बीच, इंडिया के बहुत सारे राज्यों की पुलिस आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट वाले Royal Enfield मोटरसाइकिल्स के खिलाफ कार्यवाही कर रही है. इनमें से अधिकांश एग्जॉस्ट बहुत तेज़ आवाज़ निकालते हैं और अत्यधिक ध्वनि प्रदूषण करते हैं. Central Motor Vehicle Rules (CMVR) के अनुसार, RTO के द्वारा स्वीकृत किये गए एग्जॉस्ट के अलावे सभी आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट गैरकानूनी हैं. यहाँ तक की इंडिया में आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट के निर्माता भी इस बात को साफ़-साफ़ कहते हैं की आफ्टरमार्केट एग्जॉस्ट सिर्फ ऑफ-रोड या प्राइवेट इस्तेमाल के लिए बने हैं.

वाया — DeeWorld