विदेशी बाइकर को पुलिस ने Royal Enfield चलाने के लिए पकड़ा; आगे की घटना खुद देख लीजिये

विदेशी बाइकर Karl Rock अपनी रोड ट्रिप पर Pune से Vadodara जा रहे थे. वो एक Royal Enfield Himalayan चला रहे थे, और जब वो Mumbai-Pune Expressway पर पहुंचे तो वो एग्जिट लेने के बजाये सीधे एक्सप्रेसवे पर चलते चले गए. आगे पुलिस खड़ी थी और वो पकडे गए. ये रहा आगे का वाक्या.

जैसा की आप इस विडियो में देख सकते हैं, पहले पुलिस Karl Rock और उनके साथ चल रहे उनके दोस्त को पकड़ती है, वो भी Royal Enfield Himalayan चला रहे थे. उसके बाद पुलिस कुछ अविश्वश्नीय करती है, कम से कम भारतीय बाइकर्स को तो इसपर भरोसा नहीं होगा. वो Karl Rock को सही रास्ते की जानकारी देकर जाने देते हैं. उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि Karl Rock ‘भारत के मेहमान’ हैं, और अब मेहमानों को छोटे-मोटे नियमों को मानने के लिए कौन बाध्य करता है?

Mumbai-Pune Expressway पर 2-व्हीलर चलाना गैरकानूनी है. ये एक्सप्रेसवे केवल प्राइवेट कार्स, टैक्सी, और हल्के एवं भारी वाणिज्यिक गाड़ियों के लिए बना है. बाकी सारी गाड़ियाँ — प्रशासन के अलावे — गैरकानूनी हैं और इसमें 2-व्हीलर्स एवं 3-व्हीलर्स भी शामिल हैं.

Rock के राइडिंग पार्टनर इतने किस्मत वाले नहीं थे. उन्हें Mumbai-Pune Expressway पर बाइक चलाने के लिए जुर्माना भरना पड़ा और पुलिस ने उनका चालान काट दिया जिसका मतलब ये है की उन्होंने घूस नहीं बल्कि असली जुर्माने के पैसे दिए. Rock अपने विडियो में कहते हैं की भारत में पुलिस घूस भी लेती है और वो ट्रैफिक नियम तोड़ते हुए पकड़े जाने वाले लोगों को ‘सख्त मोलभाव’ करने की सलाह भी देते हैं.

Foreign Biker Busted Featured

जहां Mumbai-Pune Expressway पर 2-व्हीलर्स, 3-व्हीलर्स, और बैलगाड़ी (जी हाँ!) की नो-एंट्री के कुछ साइनबोर्ड लगे हैं इनपर लोगों का ध्यान नहीं जान आम है. ये दिक्कत और भी ज़्यादा तब बढ़ जाती है जब पुराने Mumbai-Pune हाईवे (NH4) पर चलने वाले 2-व्हीलर्स को वापस उसी रोड पर आने के लिए Lonavala के पास बेहद थोड़ी दूरी के लिए Mumbai-Pune Expressway पर चलना पड़ता है. यहाँ अक्सर कई राइडर्स गलती कर बैठते हैं और फिर पुराने हाईवे की जगह एक्सप्रेसवे पर फँस जाते हैं.

ऐसे राइडर्स के लिए अक्सर आपको पुलिस टोल प्लाज़ा पर इंतज़ार करते हुए मिलेगी. जहां जिस पुलिसकर्मी ने Rock को रोका था उसने उनकी काफी अच्छे से मदद की, ऐसे कई मामले आये हैं जब बाइकर्स पर कई नियमों को तोड़ने के लिए एक्सप्रेसवे पर चलते हुए 5,000 रूपए तक का जुर्माना लगाया गया है. इसलिए, अगर आप पुराने Mumbai-Pune हाईवे पर चल रहे हैं तो ध्यान से सही एग्जिट लें.

एक्सप्रेसवे पर 2-व्हीलर्स के चलने के गैरकानूनी होने के पीछे भी कारण हैं!

  1. ये खतरनाक होता है. भारत में अधिकांश 2-व्हीलर्स का डिस्प्लेसमेंट 125 सीसी से कम का होता है. इसका मतलब ये है की Mumbai-Pune Expressway की 80 किमी/घंटे की स्पीड लिमिट ऐसे कई बाइक्स के लिए टॉप स्पीड होती है. ये राइडर्स के लिए बेहद खतरनाक हो जाता है क्योंकि पूरे राइड के दौरान उनकी स्पीड बाइक की अधिकतम क्षमता के आसपास रहती है.
  2. अगर वो धीमे चलने की कोशिश करते हैं तो वो तेज़ चलती हुई ट्रैफिक से होने वाले विंड ब्लास्ट का शिकार बनेंगे जिससे संतुलन बिगड़ते देर नहीं लगेगी.

जहां Rock और उनके दोस्त द्वारा चलाई जा रही Royal Enfield Himalayan आसानी से 80 किमी/घंटे से ज़्यादा जा सकती है, हमारा यहाँ क़ानून तेज़ और धीमी मोटरसाइकिल्स में भेद नहीं करता जिसके चलते कोई भी 2-व्हीलर एक्सप्रेसवे पर गैरकानूनी है.