इस पहाड़ी सड़क पर Ford EcoSport फँस गयी और Maruti Alto निकल गयी, लेकिन कैसे?

इस बात में कोई शक नहीं की पहाड़ों पर ड्राइव करना मैदानी इलाकों में ड्राइव करने से ज़्यादा मुश्किल होता है. संकरे रोड और इसके किनारे हज़ारों फीट गहरी खाई के अलावे पहाड़ी सड़कों पर ड्राइविंग और भी मुश्किल इसलिए हो जाती है क्योंकि रोड की हालत उतनी अच्छी नहीं होती. जिन लोगों को इस इलाके में ड्राइव करने का अनुभव है वो ऐसी मुश्किलों से आसानी से निबट लेते हैं. लेकिन जो ड्राईवर पहाड़ी इलाकों से नहीं हैं उन्हें यहाँ चलने में अक्सर दिक्कतें आती हैं. पेश है एक विडियो जो ये दर्शाता है की एक दिल्ली की एक रेंटेड Ford EcoSport यहाँ Kasol-Tosh रोड पर एक मिट्टी भरी जगह पर जूझ रही है. रोचक बात ये है की आप यहाँ कई Maruti Alto 800s को आसानी से निकलते हुए देख सकते हैं वहीँ इस कॉम्पैक्ट SUV को इसे पार करने में कई मिनट लग जाते हैं.

EcoSport मिट्टी वाली इस जगह पर इसलिए भी जूझ रही है क्योंकि उसे टायर्स की हालत खराब है. इस EcoSport के टायर्स घिसे हुए हैं जिसका मतलब है की ये कुछ ख़ास ग्रिप नहीं दे रहे हैं. इसलिए, यहाँ बेहद कम ट्रैक्शन मिल रहा है और फिसलन भरी इस सड़क पर हालात मुश्किल हो रहे हैं. जैसा की आप विडियो में देख सकते हैं, चक्का कई बार घूम जाता है जो ना सिर्फ गाड़ी के वेग को बल्कि टायर्स के परफॉरमेंस पर भी बुरा असर डालता है.

एक और कारण जिससे EcoSport लगातार इस मिटटी भरे जगह पर विफल हो रही है वो ये है की इसके पास पर्याप्त वेग नहीं है. Maruti Alto 800s जो यहाँ से आसानी से निकल जा रहे हैं जो साफतौर पर EcoSport से ज़्यादा तेज़ी से चल रहे थे. वहीँ दूसरी ओर, EcoSport इस मिट्टी वाले जगह पर घुसने से पहले रोड पर उतना वेग प्राप्त नहीं कर पायी थी. इसके साथ टायर्स की बुरी हालत इस कॉम्पैक्ट SUV के ड्राईवर के लिए मुश्किलें और भी बढ़ा देता है.

अंत में, जैसा की हमने कहा, अधिकांश स्थानीय लोगों को ऐसी दिक्कत को झेलने की आदत है. जैसा की आपने विडियो में देखा होगा वो Alto 800s जो इस जगह से आसानी से निकल जा रहे हैं वो स्थानीय गाड़ियाँ हैं. वहीँ दूसरी ओर, मैदानी इलाकों के ड्राइवर्स को पहाड़ों के टूटे सड़कों पर चलाने की आदत नहीं होती. साथ ही जैसा आपने देखा की ये EcoSport किराए पर ली हुई है जिसका मतलब है की ड्राईवर को इस गाड़ी को चलाने की आदत नहीं है. इसके चलते, वो इस फिसलन भरी मिट्टी वाली जगह फँस जाता है और उसे यहाँ से सफलतापूर्वक निकलने में काफी समय लगता है.

विडियो — Snehasis Chatterjee on Youtube