Fiat कहेगी भारत को 2019 में अलविदा; Punto, Linea, Avventura जैसे मॉडल होंगे बंद

दुनिया की सबसे बड़ी ऑटो निर्माताओं में से एक, Fiat जल्द ही भारत में अपना कारोबार समेटने वाली है. फिलहाल Fiat भारत में केवल Linea, Grand Punto, Avventura और Abarth Punto बेचती है और इनमें से कोई भी गाड़ी भविष्य में लागू होने वाले सुरक्षा और उत्सर्जन नियमों का पालन नहीं करती.

Fiat 1

सभी Fiat गाड़ियाँ भारत में मशहूर भी नहीं हैं, और सेल्स चार्ट भी हमें यह तस्वीर दिखाते हैं. दिसंबर 2017 से लेकर नवम्बर 2018 तक Fiat ने भारत में अपनी गाड़ी के केवल 101 यूनिट्स बेचे और ब्रांड इन कार्स को आने वाले नियमों के अनुकूल बनाने की तैयारी में नहीं है. Fiat Linea और Punto भारत में एक लम्बे समय से मौजूद रहे हैं और दोनों ही गाड़ियों को मार्केट में फ्रेश रखने के लिए कोई बड़ा अपडेट नहीं दिया गया है. Fiat Punto पर आधारित Abarth Punto, Urban Cross और Avventura भी काफी पुरानी हो चली हैं.

Fiat-Chrysler ने भारत में नयी Jeep ब्रांड को 2016 में लॉन्च किया था और Wrangler और Cherokee जैसे CBU मॉडल को बेचा शुरू किया था. 2017 में नयी Jeep Compass को लॉन्च किया गया था जिसने मार्केट में खूब ख्याति बटोरी. आगे बढ़ते हुए Fiat-Chrysler भारत में केवल Jeep ब्रांड पर ध्यान देना शुरू करेगी वहीँ Fiat की गाड़ियों को बंद कर दिया जाएगा.

भारत में नए Bharat New Vehicle Safety Assesment Program (BNVSAP) नियम अक्टूबर 2019 से लागू होंगे. ACI के एक रिपोर्ट के मुताबिक़, Fiat की कोई भी गाड़ी न्यूनतम सुरक्षा मानदंडों का पालन नहीं करती. साथ ही, 2020 में भारत में और भी सख्त BS-VI उत्सर्जन नियम लागू कर दिए जायेंगे.

भारत के राष्ट्रीय इंजन के नाम से भी मशहूर 1.3-लीटर Multijet इंजन BS-VI का पालन करने के लिए तैयार नहीं है और इसे नियमों के योग्य बनाने के लिए इसमें काफी पैसे खर्च करने होंगे. अगर Fiat कई नयी कार्स भी लेकर आती है तो कंपनी को नयी तकनीक लाने एवं अपने प्रोडक्शन लाइन को अपडेट करने के लिए काफी पैसे खर्च करने होंगे.

इसके बदले, ब्रांड ने आने वाले सालों में भारत में केवल Jeep ब्रांड पर ध्यान देने का सोचा है और इसलिए Fiat ब्रांड को भारत में बंद कर दिया जाएगा. हाल के समय में भारत में कारोबार समेटने वाला ये दूसरा बड़ा ब्रांड है. 1 जनवरी 2018 से General Motors की Chevrolet ब्रांड ने भारत में कम सफलता के चलते अपनी गाड़ियों की बिक्री बंद कर दी थी.

Fiat भारत के बाज़ार में कई निर्माताओं को 1.3-लीटर Multijet इंजन भी सप्लाई करती है. चूंकि ये इंजन BS-VI का पालन नहीं करता, नए नियमों के लागू होने के बाद ये काम के नहीं रह जायेंगे. इससे भविष्य में Fiat India के कारोबार पर काफी व्यापक असर पड़ेगा.

इस इटालियन निर्माता ने अपने सभी डीलर्स को अपनी बिना-ABS वाले स्टॉक को क्लियर करने को भी कहा है. यहाँ ध्यान दिया जाना चाहिए की ABS भारतीय कार्स में 1 अप्रैल 2019 से अनिवार्य हो जाएगा. लेकिन बड़ा अपडेट अक्टूबर 2019 में आएगा जब नए BNVSAP मार्केट में लागू हो जायेंगे. यही वो समय होगा जब Fiat भारत में अपना कारोबार समेट ले.