Yamaha RX135 और Pulsar 220F के ड्रैग रेस में विजेता का नाम आपको चौंका देगा!

हम सभी लोगों को पता है की 2-स्ट्रोक बाइक्स पॉवर के मामले में अपने डिस्प्लेसमेंट वाली 4-स्ट्रोक बाइक्स को आसानी से पीछे छोड़ सकती है. लेकिन, क्या होता है जब एक 135-सीसी वाले Yamaha RX135 को Pulsar 220F के सामने एक ड्रैग रेस में उतारा जाता है? इस रेस का नतीजा जानने के लिए आइये देखते हैं इस विडियो को —

https://youtu.be/9jawm1q3msI?t=262

जैसा की आप विडियो में देख सकते हैं की Yamaha RX135 को खासकर ड्रैग रेस के लिए ही मॉडिफाई किया गया है. रेस शुरू होते ही RX135 आसानी से Pulsar 220F से आगे निकलने लगती है. अंत में हम देख सकते हैं की RX135 ने Pulsar 220F के ऊपर एक बड़ी बढ़त हासिल कर ली है, और वो इस रेस को आसानी से जीत जाती है. अगले शॉट में आप Pulsar 220F के डैशकैम को भी देख सकते हैं जिसमें Pulsar के स्पीडोमीटर को 130 किमी/घंटे की रीडिंग देते हुए देखा जा सकता है. और इस पड़ाव पर भी Pulsar 220F के मुकाबले RX135 कहीं आगे है. इसका मतलब RX135 उस वक़्त 130 किमी/घंटे से भी तेज़ चल रही थी और अभी रेस खत्म भी नहीं हुई थी! RX135 के 135 सीसी इंजन को 200 एमएम तक पोर्ट किया गया है. इसका मतलब है की RX135 का स्टॉक इंजन अब पहले से बेहतर आउटपुट देगा. इस बाइक में 4 स्पीड गियरबॉक्स है वहीँ इसे ड्रैग रेसिंग के लिए खासतौर पर हल्का किया गया है. Pulsar 220F के 21 पीएस के आउटपुट होने के बावजूद RX135 उसे चुटकियों में पीछे छोड़ देती है, और ये बाइक के पॉवर के बारे में आपको अच्छा आईडिया देगा.

हालांकि यहाँ RX135 ने इस रेस को आसानी से जीत लिया, लेकिन एक बात जो आपको ध्यान में रखनी चाहिए की RX135 के ओनर ने इस बाइक को मॉडिफाई करने के लिए इसमें लगभग 70,000 रूपए खर्च किये हैं. और इस बाइक को खासतौर पर ड्रैग रेसिंग के लिए ही मॉडिफाई किया गया है, इसके इंजन से लेकर फ्रेम और टायर्स तक हर चीज़ को मॉडिफाई किया गया है. वहीँ इसकी तुलना में Pulsar 220F पूरी तरह से स्टॉक है, इसमें कोई भी बदलाव नहीं हैं. 2-स्ट्रोक भले ही 4-स्ट्रोक से बेहतरीन आउटपुट देती हो, लेकिन इस तुलना में RX135 का पलड़ा भारी नज़र आता है. अंत में हमें ये नहीं भूलना चाहिए की ये बाइक्स के प्रति दीवानगी का ही नतीजा है की RX135 इस हद तक मॉडिफाई कर दी गयी की वो एक स्टॉक Pulsar 220F को आसानी से पीछे छोड़ दे.

सोर्स