सेकंड हैण्ड कार डीलर दिया करते थे Toyota Fortuners चोरी करने का ऑर्डर! दिल्ली पुलिस का खुलासा

दिल्ली पुलिस ने हाल ही में एक कार चोर को पूर्वी दिल्ली में Vivek Vihar के पास गोली मार दी. पुलिस ने मृत चोर के एक साथी को भी धर दबोचा. और इस गैंग द्वारा चोरी की गयी कार्स ने कुछ चौंकाने वाले तथ्य सामने रखे हैं.

अभियुक्त सेकंड हैण्ड कार डीलर्स से आर्डर लिया करता था और उसी हिसाब से चोरी किया करता था. इस जांच में ये बात सामने आई है की ये लोग 1 जून को दिल्ली आये और उनके पास तीन Toyota Fortuner SUVs का ऑर्डर था. चोरों ने गाड़ियों को शहर के अलग-अलग हिस्सों से चुराया और उन्हें सुनसान जगह पर ले जाकर पार्क कर दिया. वो उन्हें इस हफ्ते दिल्ली से बाहर ले जाने वाले थे. लेकिन पुलिस ने इस प्लान का पर्दाफाश कर दिया और अब बाकी मेम्बर्स को तलाश रही है. कहा जा रहा है की संदिग्ध Uttar Pradesh या Haryana भाग गए हैं.

एनकाउंटर में पुलिस द्वारा मारा गया Noor Mohammad उत्तरी भारत के कई हिस्सों में चल रहे गाड़ी चोरी गिरोह का मेम्बर था. ये गैंग पूर्वोत्तर के सेकंड हैण्ड कार डीलर्स से ऑर्डर लिया करता था. ये डीलर कस्टमर के डिमांड के हिसाब से कार आर्डर किया करते थे. फिर ये गैंग दिल्ली में इन गाड़ियों की तलाश किया करता था. Noor का साथी Ravi इन गाड़ियों में खिड़की तोड़ घुसता था और अपने लैपटॉप को ECM से जोड़ दिया करता था.

पूछताछ के दौरान, Ravi ने बताया की उनके द्वारा हाल ही में चुराई गयी तीन Toyota Fortuner SUVs को पश्चिम और दक्षिणी दिल्ली से चुराया गया था. इन चुराई हुई गाड़ियों को मेट्रो स्टेशन के पास पार्क किया गया था. चोर गाड़ी चुराने के तुरंत बाद ही इनके नंबर प्लेट बदल दिया करते थे. साथ ही गाड़ी को पहचाने जाने से बचाने के लिए उन्हें प्लास्टिक कवर से ढँक दिया जाता था. Noor के साथ काम करने से पहले Ravi सर्विस सेण्टर में एक कार मैकेनिक की नौकरी किया करता था. उसने पैसे के लालच में ये गैंग जॉइन किया था.

वाया — Hindustan Times