Chennai पुलिस ने ‘street racing’ के कारण 80 से अधिक बाइक्स ज़प्त कीं [वीडियो]

चेन्नई शहर पुलिस ने सड़क पर युवा बैकर्स पर एक क्रैकडाउन शुरू कर दिया है। नवीनतम रिपोर्टों के मुताबिक, पुलिस बल ने पुलिस द्वारा स्थापित एक विशेष अभियान के दौरान 80 से अधिक बाइक जब्त कर ली हैं. आइए देखें यहाँ हुआ क्या है.

यहाँ हो क्या रहा है?

चेन्नई के युवा राइडर्स Kamarajar Salai और RK Salai में स्थित चेन्नई पुलिस मुख्यालय के सामने बाइक स्टंट करने लगे. इन युवा राइडर्स ने मंगलवार की रात को स्टंट्स किये जब पोलिसवाले रोज़ की रात की ड्यूटी पर थे और उन्होंने बैरिकेड्स लगा रखे थे. एक और घटना में ये राइडर्स फ़्लैश-मॉब स्टाइल में वापिस आकर मुख्यमंत्री के निवास के सामने बाइक स्टंट्स करने लगे.

ये स्टंट राइडर्स छह युवाओं के ख़तरनाक और रैश ड्राइविंग के कारण गिरफ़्तार होने के बाद भीड़ लेकर वापिस लौटे। पुलिस ने इन राइडर्स द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले रास्ते पर बैरिकेडस लगाए और इनका पीछा कर के इन स्टंट राइडर्स को पकड़ने का प्लॉन बनाया।ये बाइकर्स Light House की तरफ तेज़ रफ़्तार से भाग गए और पुलिस केवल छेह अपराधियों को पकड़ पाई. इनमें से तीन के पास ना तो ड्राइविंग लाइसेंस था ना ही उन बाइक के आवश्यक कागज़ात थे जिन्हें ये बाइकर्स स्टंट्स करने के लिए इस्तेमाल कर रहे थे.

ऐसी कोई घटना दोबारा ना हो इसलिए Chennai City Police ने 2000 से अधिक पुलिसवालों को पुरे शहर में रात की ड्यूटी पर तैनात किया है. इस फ़ोर्स को इस तरह के बाइकर्स को ढूंढ़ना और पकड़ना है जो शहर के विभिन इलाकों में इस तरह की परेशान करने तथा हल्ला गुल्ला मचाने वाली हरकतें करते हैं. पुलिस इन अपराधियों को पकड़ने के लिए Automatic Number Plate Reader (ANPR) जैसे हाई-टेक् यंत्रों का उप्योग कर रही है. पुलिस ज़्यादा से ज़्यादा स्टंट राइडर्स को पकड़ने के लिए इस प्रकार के 8 यंत्रों का एक साथ उप्योग कर रही है.

एक रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने पहली ही रात में लगभग 69 बाइक्स को ज़प्त कर लिया है. सभी अंडरज बच्चों के माता-पिता को पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट करने और एक लिखित दस्तावेज देने के लिए कहा गया है कि उनके संबंधित बच्चे कानूनी ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने से पहले ना तो बाइक रेस लगाएंगे और ना ही बाइक चलाएंगे।

जहाँ चेन्नई की सड़कों पर अपनी स्किल्स दिखाने वाले बिना हेलमेट वाले स्टंट राइडर्स के कई वीडियो हैं वहीं कई बार संवेदनशील पुलिसवाले तेज़ राइडिंग को स्टंट राइडिंग की केटेगरी में गिनते हैं. पुलिसवालों की स्टनटिंग की कई परिभाषाएं हैं और इन्हें महंगी बाइक के राइडर्स के रेसिंग करने पर भी शक है.

हालांकि, शहर की सड़कों पर बाइक स्टंट करना बेहद खतरनाक है और किसी को भी सार्वजनिक सड़कों पर ऐसी खतरनाक राइडिंग नहीं करनी चाहिए। स्टंट राइडिंग एक कला है और इसे करते समय हमेशा हेल्मेट, जूते, दस्ताने, घुटने और हाथ के गार्ड सहित सभी सुरक्षात्मक गियर पहनना चाहिए। इसके अलावा, हमेशा नियंत्रित क्षेत्र में स्टंटिंग का अभ्यास करना चाहिए। स्टंट राइडिंग अप्रत्याशित है और संतुलन खोने पर सार्वजनिक सड़कों पर गंभीर चोट लग सकती है.

SourceSource2