Chennai Cop Expertly Fines Superbike With Aftermarket Exhaust [Video] देखिये चेन्नई पुलिस ने किस चालाकी इस सुपरबाइक के मॉडिफाइड साइलेंसर पर लगाया जुर्माना [वीडियो]

देखिये चेन्नई पुलिस ने किस चालाकी इस सुपरबाइक के मॉडिफाइड साइलेंसर पर लगाया जुर्माना [वीडियो]

भारत उन देशों में से एक है जहां पुलिस यातायात कानूनों को पूरी तरह से लागू करवा पाने में असमर्थ रहती है. अब भारतीय पुलिस ने पूरे देश में उन लोगों पर नकेल कसना शुरू की है जो अपनी गाड़ियों में कानफाड़ू आफ्टरमार्केट साइलेंसर लगवाते है. इस मामले में पुलिस का पहला टारगेट Royal Enfield मोटरसाइकल्स हैं क्योंकि अक्सर इन्हीं बाइक्स में ये शोर करने वाले आफ्टरमार्केट एग्ज़हॉस्ट लगाए जा रहे हैं. चेन्नई के इस वीडियो में आप देख सकते हैं की कैसे होशियार पुलिसकर्मी इन आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉसट्स को आसानी से पहचान ले रहे हैं.

यहाँ हो क्या रहा है?

इस विडियो में आप एक सार्वजनिक सड़क पर विभिन्न किस्म की सुपरबाइक्स पर सवार बाइकर्स के एक समूह को देख सकते हैं. इन बाइकर्स के अनुसार उनका समूह महाबलिपुरम से बेसेंट नगर बीच पर खाना खाने जा रहा था. जब बाइकर्स का ये समूह एक ट्रैफिक सिग्नल पर इंतज़ार कर रहा था तब भरे ट्रैफिक को चीरते हुए एक पुलिसकर्मी उनके पास आया और इस समूह की एक Kawasaki Ninja Z800 की चाबियां निकालने की कोशिश  करने लगा.  इस पूरी घटना को अपने हेलमेट कैमरा से रिकॉर्ड कर रहे व्यक्ति ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए पुलिसकर्मी से कहा की वे लोग आगे चल सड़क किनारे अपनी गाड़ियां खड़ी कर लेते हैं तब कहीं पुलिसकर्मी उन्हें छोड़ा. जब पूरे समूह ने अपनी बाइक्स को सड़क किनारे पार्क कर लिया तब कुछ और पुलिस अधिकारी इनसे पूछताछ के लिए वहां आ गए.

जब पुलिस ने Benelli TNT600i पर लगे आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट के बारे में पूछताछ की तो बाइकर समूह के लोगों ने जवाब दिया कि ये एक स्टॉक एक्ज़हॉस्ट है और फैक्ट्री से ही लगा हुआ आता है.  लम्बे अर्से तक पुलिसवालों और बाइकर्स के बीच चली बहस के बाद आख़िरकार बाइकर समूह को मानना ही पड़ा की Benelli TNT600i में लगा एक्ज़हॉस्ट आफ्टरमार्केट ही है. पुलिस ने बाइक में हाई-डेसिबल आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट के इस्तेमाल के जुर्म में फाइन लगाने के बाद इस बाइकर समूह को जाने दिया.  पुलिस द्वारा इन हाई-एन्ड बाइक्स में लगे आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट को पहचान कर उनके खिलाफ़ कार्यवाही की ये घटना असामान्य है.

अधिकांश सुपरबाइक मालिक बेहतर और स्पोर्टी आवाज़ के लिए इनके एग्ज़हॉस्ट सिस्टम को अपग्रेड करवाते हैं और जब पुलिस इनसे इस बारे में सवाल करती है तो ये इन बाइक्स के विदेशी होने और इनके एग्ज़हॉस्ट के फैक्ट्री फिटेड होने का आसान बहाना बनाकर फाइन से बच निकलते हैं. ऐसे में चेन्नई पुलिस की Benelli TNT600i के मालिक पर की गयी दंडात्मक कार्यवाही एक सराहनीय कदम कहा जा सकता है और इससे ये बात भी साफ़ होती है कि जल्द ही इस किस्म के आसान बहाने बाइक मालिकों फाइन से नहीं बचा पाएंगे. शरुआत में एक दूसरी बाइक को पकड़ने के बाद ही पुलिस कर्मी को ये अंदाज़ा हो पाया कि असल में Benelli वो बाइक है जिसमें आफ्टरमार्केट एग्ज़हॉस्ट लगा है. एक लम्बी बहस के बाद भी इन बाइकर्स को छूटने के लिए फाइन देना ही पड़ा.

Chennai Super Smart Cop Featured

ये बात ध्यान देने वाली है कि भारतीय सड़कों पर आफ्टरमार्केट परफॉरमेंस एक्ज़हॉस्ट का इस्तेमाल अपनी बेतहाशा ऊंची आवाज़ के चलते प्रतिबंधित है. ऐसी बाइक्स को आप रेस ट्रैक्स जैसी निजी सम्पत्ति में चला सकते हैं. अधिकतर आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट वज़न में हल्के होते हैं और इस वजह से कुछ मामलों में बाइक की पावर आउटपुट भी बढ़ा देते हैं लेकिन ये निर्धारित डेसीबल लेवल को एक बहुत बड़े अंतर से लांघ जाते हैं. ये बात भी ध्यान देने वाली है कि कुछ आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट ऐसे भी हैं जो बहुत ही धीमी आवाज़ करते हैं.

ऐसी बाइक्स को पुलिस ज़ब्त कर सकती है. अभी तक फाइन की राशि का पता नहीं है लेकिन अगर आपकी बाइक पुलिस द्वारा ज़ब्त कर ली जाती है तो आपको ये बहुत दिक्कत भरा और महंगा पड़ सकता है. साथ ही कुछ बाइक निर्माता बाइक्स में मॉडिफाइड पार्ट्स लगाकर उनकी वारंटी को अमान्य कर देते हैं. अगर आप सही में आफ्टरमार्केट एक्ज़हॉस्ट को टेस्ट करना चाहते है तो रेस ट्रैक्स जैसी जगहें ही इसके लिए आदर्श और आम रास्तों के मुक़ाबले सुरक्षित भी हैं. ये बात सही है की पुलिस द्वारा बाइक की चाबी छीने जाने की कोशिश ग़ैरकानूनी थी लेकिन सड़कों पर ऐसी गाड़ियों की पहचान और इनके ख़िलाफ़ कार्यवाही, भविष्य में भारतीय सड़कों पर दिक्कतें पैदा करने वाली इन गैरकानूनी गतिविधियों से छुटकारा दिलाएंगी.

सोर्स

×

Subscibe our Newsletter