आपकी गाड़ी आपके घर से ज़्यादा ऑफिस में सुरक्षित हैं, जानें कैसे…

इंडिया में कार चोरी आम बात है, अकसर कई कार्स चोरी हो जाती हैं और वो कभी रिकवर नहीं हो पातीं. अधिकांश चोरी हुई गाड़ियाँ पड़ोसी देशों में भेज दी जाती हैं और उन्हें ट्रैक करना असंभव हो जाता है. साथ ही चोरी की हुई गाड़ियों को खोलकर उनके पार्ट्स अलग से बेच दिए जाते हैं जिससे उनका पता लगाना और भी मुश्किल हो जाता है. दिल्ली पुलिस के नए आंकड़े बताते हैं की घर के बाहर कड़ी कार्स ऑफिस के बाहर कड़ी कार्स की तुलना में ज़्यादा चोरी होती हैं.

दिल्ली पुलिस का कहना है की कुल चोरी हुई कार्स में से 55% कार्स घर के बाहर से चोरी होती हैं वहीँ ऑफिस वाले जगहों से मात्र 1% कार्स चोरी होती हैं. नए आंकड़े ये भी बताते हैं की 44% कार चोरियां रात 9 बजे से सुबह 6 बजे के बीच चोरी होती हैं. वहीँ दूसरी ओर, 16% कार चोरियां शाम 6 बजे से रात 9 बजे के बीच चोरी होती हैं. ये बात हमें कार की सुरक्षा के बारे में नयी जानकारी देती हैं और ये भी बताती है की अगर नज़र ना रखी जाए तो कार्स कैसे चोरी हो जाती हैं.

घर के बाहर खड़ी अधिकांश कार्स पर कोई नज़र नहीं रखता वहीँ ऑफिस जैसी जगहों पर सिक्यूरिटी गार्ड मौजूद होता है या अधिकृत पार्किंग क्षेत्रों में उनपर नज़र रखी जा रही होती है. कार्स की बढती संख्या और पार्किंग की कमी के चलते हाल के समय में कार चोरियों में बड़ी बढ़ोतरी हुई है. घर के बाहर पार्किंग ना होने के कारण लोग अपनी कार को घर से दूर खड़ी कर देते हैं जिससे वो उसपर नज़र नहीं रख पाते. साथ ही आवासीय इलाके ऑफिस के मुकाबले ज़्यादा सुनसान जगहों पर होते हैं जिससे वहां चोरी आसान हो जाती है.

कार को कैसे रखें सुरक्षित?

आपकी गाड़ी की सुरक्षा में आप गाड़ी कहाँ और कैसे खड़ी करते हैं बहुत ज़रूरी होता है. पेश हैं सुरक्षा को लेकर कुछ नुस्खे जो आपको गाड़ी खड़ी करते वक़्त ध्यान में रखनी चाहिए.

  • एक सुनसान कोने में गाड़ी खड़ी ना करें. ऐसी जगह पर गाड़ी खड़ी करें जहां लोग आते-जाते रहें.
  • हमेशा इस बात को सुनिश्चित करें की गाड़ी एक रोशन जगह पर खड़ी हो चूंकि चोर ऐसी जगहों से दूर ही रहते हैं.
  • कार में सुरक्षा उपकरण जैसे स्टीयरिंग लॉक या गियरबॉक्स लॉक लगाकर रखें. इन लॉक्स से पार पाने में चोरों को काफी समय लगता है और ऐसे में कार चोरी बेहद मुश्किल हो जाती है.
  • GPS-आधारित सुरक्षा उपकरण खरीदें. ऐसे डिवाइस आपको अपनी गाड़ी की लाइव लोकेशन बताते हैं जिससे आप अपनी चोरी हुई गाड़ी को ट्रैक कर सकते हैं.

सोर्स