बैंगलोर पुलिस ने स्टंट कर रही Honda Activa और Dio स्कूटर्स पर की कार्यवाई, गिरफ्तार हुए युवा!

आम सड़क पर स्टंट करना गैरकानूनी है और बैंगलोर में पुलिस स्टंट करने वालों युवाओं से सख्ती से निबट रही है. हाल में ही लगभग Honda Activa और Honda Dio जैसे एक दर्जन ऑटोमैटिक स्कूटर्स को बैंगलोर पुलिस ने जब्त कर लिया था. राइडर्स को कई नियम तोड़ने के लिए गिरफ्तार किया गया था जिसमें खतरनाक ड्राइविंग/राइडिंग और बिना हेलमेट के राइडिंग वगैराह शामिल हैं. जहां अधिकांश स्टंट करने वालों को पुलिस स्टेशन से ज़मानत पर छोड़ दिया गया है, उन्हें जल्द ही न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा.

Wheelie Stunters Busted Bangalore

अधिकांश स्टंट करने वाले युवाओं को बिना वैध ड्राइविंग लाइसेंस के भी पाया गया जिससे ये शक उठने लगा है की इनमें से कई 18 साल के उम्र के भी नहीं हैं. अगर ये युवा 18 साल के कम उम्र के निकले, पुलिस Honda Activa और Dio स्कूटर्स के ओनर्स के खिलाफ कार्यवाही करने का सोच रही है, और ऐसे मामलों में अक्सर ओनर्स युवाओं के अभिभावक होते हैं. आम सड़क पर नाबालिग को गाड़ी चलाने देना एक दंडनीय अपराध है और दोषी पाए जाने पर नाबालिग युवाओं के अभिभावकों को कानूनी कार्यवाई झेलनी पड़ सकती है.

आम सड़क पर स्टंट करना इद्निया के अधिकांश बड़े शहरों में आम हो गया है. अक्सर स्टूडेंट इतने खतरनाक काम करने से पहले सुरक्षा के पर्याप्त कदम नहीं उठाते. हाल में ही मुंबई पुलिस ने भी खतरनाक रूप से गाड़ी चलाने के लिए स्टंट करने वालों पर कार्यवाई की. वहां युवा रात के वक़्त कम ट्रैफिक वाले कनेक्टिंग सड़कों पर स्टंट करते थे. ऐसे स्टंट करते हुए कई चीज़ें गलत हो सकती हैं.

Wheelie Stunters Busted Bangalore 2

सबसे पहले तो असफल स्टंट में टू-व्हीलर के राइडर और सवारी संतुलन खो गिर सकते हैं. सेफ्टी गियर नहीं पहनने वाले राइडर्स को और भी बुरी तरह से चोट लग सकती है और कई मामलों में तो मौत भी हो जाती है. रोड इस्तेमाल कर रहे दूसरे लोगों को भी काफी जोखिम उठाना पड़ता है क्योंकि असफल स्टंट कर रही टू-व्हीलर्स अक्सर दूसरे गाड़ी से जा टकराती हैं. फिर बात आती है स्टंट के दौरान गाड़ियों के बुरी तरह से डैमेज होने की.

Honda Activa और Dio जैसे टू-व्हीलर्स, या फिर बाकी के मोटरसाइकिल/स्कूटर्स स्टंट करने के लिए डिजाईन नहीं किये जाते. उन्हें मुख्यतः शहर में एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. स्टंट करने से सस्पेंशन, चेसी, इंजन, गियरबॉक्स, और टू-व्हीलर के हर हिस्से पर जोर पड़ता है. गाड़ी तिल-तिल कर डैमेज होती है. असल में, स्टंट के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले मोटरसाइकिल और स्कूटर्स को कुछ हज़ार किलोमीटर के बाद ही काफी पैसे खर्च कर पूरी तरह से नए सिरे से बनाने की ज़रुरत पड़ती है. वहीँ दूसरी ओर, ऐसा टू-व्हीलर जिसे स्टंट के लिए इस्तेमाल किया जाता है, वो आसानी से एक लाख किलोमीटर तक चल जाता है.

Wheelie Stunters Busted Bangalore 3

वाया — BangaloreMirror, BTP