Bajaj Dominar और Royal Enfield Himalayan के बीच खींचतान में ये है विजेता [विडियो]

इंसानों के X-BOX चलाने से पहले रस्सकश्शी काफी लोक्र्पिया करता हुआ करता था. तब के लोकप्रिय इस खेल ने गाड़ियों के दीवानों को दीवाना बना दिया है. और ये खींचतान के इतने सारे विडियोज़ देख कर पता लगता है. आज हम आपके लिए लेकर आये हैं 2 रोचक गाड़ियों के बीच खींचतान का विडियो. इस विडियो में Bajaj Dominar एक Royal Enfield Himalayan से टक्कर ले रही है. कुछ लोग बोलेंगे की ये तुलना सही नहीं है क्योंकि Dominar में Himalayan के मुकाबले ज़्यादा पॉवर है (34.5 बीएचपी > 24.5 बीएचपी). लेकिन आपको बता दें की ऐसे हालातों में अधिकतम पॉवर ज़्यादा मायने नहीं रखती. इसपर और भी बात बाद में, लेकिन पहले विडियो पर एक सरसरी निगाह डालते हैं.

विडियो में थोड़े देर के लिए बाइक्स को दो जगह से बाँधा जाता है और इंजन चालू किये जाते हैं. फिर, Dominar शुरुआत में थोड़ी बढ़त पाती है लेकिन फिर Himalayan बढ़त बनाना शुरू कर देती है, और Dominar के चक्के घूमने लगते हैं. दूसरे राउंड में यही नतीजे आते हैं और Bajaj बाइक बढ़त बनाने की थोड़ी निर्बल कोशिश करती है. लेकिन तीसरे राउंड में चीज़ें थोड़ी बदलती हैं और दोनों बाइक्स एक दूसरे को थोड़ा खींचती हैं लेकिन अंत में नतीजा वही होता है. Himalayan तीनों राउंड में आसानी से जीत जाती है.

इसके बाद, राइडर्स बाइक बदलते हैं और फिर एक दूसरे से भीड़ जाते हैं. पहले राउंड में Dominar फिर से हार जाती है, लेकिन इस बार थोड़ी मशक्कत के बाद, लम्बी कहानी को छोटे में बताएं तो दूसरे और तीसरे राउंड में भी Himalayan जीत जाती है, पर Dominar अपनी पूरी ताकत से हर बार जीत जाती है.

ये विडियो साफतौर पर दर्शाती है की पॉवर हमेशा जीतने के लिए काफी नहीं होती.

Dominar Vs Himalayan Tug

लेकिन ये सच है की ज़्यादा हॉर्सपॉवर से गाड़ी तेज़ी से स्पीड पकड़ती है. लेकिन ऐसे मामलों में महत्व इस बात का होता है की आपके गाड़ी में कितना लो-एंड टॉर्क है. आसान भाषा में कहें तो कम आरपीएम पर जितना टॉर्क मिलेगा, उतना ही ऐसे मामलों में जीतने की संभावना बढ़ जायेगी. यहाँ देखें तो 4,500 आरपीएम पर Himalayan 32 एनएम का टॉर्क उत्पन्न करती है वहीँ 6,500 आरपीएम पर Dominar 35 एनएम उत्पन्न करती है. अब आप देख सकते हैं की Royal Enfield ने हर बार Bajaj के ऊपर जीत क्यों दर्ज की.

साथ ही, अगर हम इस बात को देखें की दोनों अलग तरह के बाइक्स हैं, तो ये पता चलेगा की Dominar में लो एंड में इतना कम टॉर्क क्यों मिलता है. Royal Enfield Himalayan एक ‘एडवेंचर टूरर’ केटेगरी बाइक है वहीँ Dominar स्पोर्ट्स टूरर है.

ऑफ-रोडिंग के कारण Himalayan को कम आरपीएम पर ज़्यादा टॉर्क की ज़रुरत पड़ती है ताकि वो मुश्किल सतहों से निबट सके. लेकिन, स्पोर्ट्स टूरर होने के नाते, Dominar को तेज़ रफ़्तार पर इस्तेमाल के लिए बनाया गया है इसलिए इसमें हाई रेव पर ज़्यादा पॉवर मिलता है.