Underage Drivers के खिलाफ मुहीम, Parents हुए ARREST!

अंडरऐज ड्राइविंग के खिलाफ लड़ाई में एक और कदम आगे बढाते हुए Hyderabad Traffic Police ने 69 अंडरऐज ड्राइवर्स के पिताओं को जेल में डाला है. Andhra Pradesh की राजधानी की ट्रैफिक पुलिस ने अपने अंडरऐज ड्राइविंग की पहल के तहत 14-16 साल के बीच की उम्र के बच्चे जो बिना ड्राइविंग लाइसेंस के टू-व्हीलर्स, फोर-व्हीलर्स, या थ्री-व्हीलर्स चला रहे थे, उन्हें पकड़ कर उन पर जुर्माना किया.

ये पहली बार भी नहीं है. ऐसा Hyderabad में पहले भी हुआ है एवं और कई राज्यों में पुलिस और कोर्ट इस बात पर विचार कर रही है की क्या अंडरऐज ड्राइवर्स के अभिभावकों को जेल में डाला जाए या नहीं. हमारा अंदाजा? ये बाकी के देश में जल्द ही फैलने जा रहा है. गैर-ज़िम्मेदार पेरेंट्स सावधान रहें!

और तो और, दोषी पाए गए 69 किशोरों के अभिभावकों को स्थानीय मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया है जिन्होंने उन्हें एक-दिन से लेकर तीन दिन की अवधि के लिए जेल भेज दिया. कोर्ट ने नियम तोड़ने पर भारी जुर्माना भी लगाया है. Hyderabad Traffic Police ने फरवरी के शुरुआत में नाबालिगों से संबंधित सड़क हादसों को कम करने के लिए अंडरऐज ड्राइविंग के खिलाफ एक अभियान शुरू किया था. पुलिस उपायुक्त (ट्रैफिक) ने कहा “हम पिछले दो सालों से कोर्ट के द्वारा जुर्माना करवा रहे हैं. लेकिन इसका (अंडरऐज ड्राइविंग के खिलाफ) वांछित प्रभाव नहीं पड़ा. नाबालिगों से जुड़े सड़क दुर्घटनाओं के एक क्रम के बाद हमने नाबालिग ड्राइविंग के खिलाफ कड़ा कदम उठाया.”

उन्होंने ये भी कहा की “हमने Motor Vehicles Act के प्रावधानों को लागू किया और सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों का हवाला देते हुए स्थानीय न्यायालयों से गुजारिश की कि नाबालिग ड्राइविंग को गंभीरता से लिया जाए क्योंकि ये सिर्फ नाबालिगों की ही नहीं बल्कि दूसरे लोगों की ज़िन्दगी को भी खतरे में डालता है और कोर्ट ने हमारी बात मानी.” अंडरऐज ड्राइवर्स/राइडर्स के अभिभावक अनाधिकृत लोगों को गाड़ी चलाने देने के लिए Motor Vehicle Act के धारा 180 के तहत गिरफ्तार किये जा रहे हैं. और अंडरऐज ड्राईवर को एक्ट के धारा 181 के तहत बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने के लिए पकड़ा जा रहा है. अब तक दण्डित किये गए नाबालिगों में से तीन को बाल गृह भेज दिया गया है.

उपायुक्त का दावा है की नाबालिग ड्राइवर्स के खिलाफ ये मुहीम नागरिकों द्वारा सराही जा रही है. कथित तौर पर, नागरिकों ने Hyderabad Traffic Police को इस तरह की सख्ती के लिए शुभकामनाएं भी दी हैं क्योंकि ये नाबालिगों को गाड़ी चलाने से रोकेगा. Ranganath ने कहा की “ये मुहीम (अंडरऐज ड्राइविंग के खिलाफ) इस साल के अंत तक चलेगी और हम इसे स्थिर करना चाहते हैं.”

via RepublicWorld

×

Subscibe our Newsletter