5 History Facts About TATA Motors You Do Not Know TATA Motors के इतिहास की 5 बातें जो आपको नहीं पता!

TATA Motors के इतिहास की 5 बातें जो आपको नहीं पता!

Tata Motors इंडिया के सबसे पुरानी कार कंपनियों में से एक है. आज मार्केट में एक बड़े हिस्से पर जो कंपनी काबिज़ है, उसका एक बेहतरीन इतिहास भी है. आज हम इसी इतिहास पर गौर फरमाते हुए आपको बताएँगे Tata Motors के बारे में 5 ऐसी बातें जो आमतौर पर हर किसी को पता नहीं होतीं.

TELCO

जी हाँ, 1945 में Tata Motors की शुरुआत TELCO (Tata Engineering and Locomotive Company) के रूप में हुई थी. और रोचक बात ये है की शुरुआत में ये कंपनी रेलवे के इंजन बनाया करती थी! बाद में 2003 में जाकर TELCO को Tata Motors का नाम दिया गया. और जैसा कहते हैं की बाकी सब इतिहास के पन्नों में अंकित है!

Mercedes कनेक्शन

Tata Motors सबस एपेहले जो ट्रक्स बनाया करती थी उनपर Mercedes का लोगो लगा हुआ होता था क्योंकि कंपनी ने इंजन बनाने की तकनीक सीखने के लिए Daimler Benz के साथ करार किया हुआ था. इसी के चलते Tata Motors द्वारा बनाए गए ट्रक Mercedes ब्रांडिंग के साथ बाज़ार में आया करते थे. बाद में 1969 में जाकर Mercedes के लोगो की जगह Tata का जाना-माना इस्तेमाल होना शुरू हुआ.

Jaguar-Land Rover

Tata के H5X कांसेप्ट लॉन्च करने के बाद से ये बात अब लगभग फेमस हो गयी है, लेकिन फिर भी आपको बता दें की Tata Motors ने 2008 में Jaguar-Land Rover को खरीद लिया था. $2.3 बिलियन के इस डील में Tata Motors ने उस कंपनी को खरीद लिया जिसके कार में आज इंग्लैंड की प्रधानमंत्री घूमा करती हैं!

Tata Sumo

अक्सर लोग सोचा करते हैं की अपने जगहदार इंटीरियर के लिए फेमस Tata Sumo का नाम इसके प्रचार के चलते रखा गया था जिसमें कार के अन्दर से कुछ Sumo पहलवान निकलते हैं. लेकिन असल में इस कार का नाम Tata Motors के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर Sumant Moolgaokar के ऊपर रखा गया था.

Tata Indica

आजकल मेक इन इंडिया काफी फेमस हो रहा है और लोग स्वदेसी रूप से चीज़ें बना भी रहे हैं. यहाँ तक की इंडिया में ऑटो इंडस्ट्री काफी तेज़ी से बढ़ रही है. लेकिन क्या आपको पता है की इंडिया में पूरी तरह से देसी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हुए बनने वाली सबसे पहली कार Tata Indica थी? जी हाँ, ये इंडिया की पहली पूरी तरह से मेक इन इंडिया वाली कार थी!

×

Subscibe our Newsletter