इंडिया की 5 ऐसी कार्स जो अपने समय से काफी आगे थीं…

अक्सर ऐसा होता है की ब्रांड्स अच्छे-से-अच्छी कार लॉन्च करने के चक्कर में ये भूल जाते हैं की आखिर उनके कस्टमर्स की ख्वाहिश क्या है. कभी या तो ब्रांड अपने ऐसे फैसलों से कस्टमर्स को बिल्कुल ही निराश कर देते हैं और कभी वो उन्हें खुश करने के चक्कर में ऐसी कार्स लॉन्च कर देते हैं जो कस्टमर की डिमांड से भी काफी बढ़कर होती है. आज हम आपके लिए ऐसी ही 5 कार्स लेकर आये हैं जो खूबियों से भरी होने के बावजूद मार्केट में कोई ख़ास छाप नहीं छोड़ पायीं.

Mitsubishi Lancer

एक समय था जब Mitsubishi India की कार्स की लाइन-अप तगड़ी थी. इसके पोर्टफोलियो की सबसे तगड़ी गाड़ी थी Lancer सेडान. इंडिया स्पेक Lancer तीन इंजन ऑप्शन के साथ उपलब्ध थी, 1.5-लीटर पेट्रोल, 1.8-लीटर पेट्रोल, और 2.0-लीटर डीजल. Lancer का डिजाईन सदाबहार था और इसकी डायनामिक्स तगड़े थे. जहां ये पुरानी Honda City जितनी पॉपुलर नहीं हुई थी, ये एक लीजेंडरी कार है. Mitsubishi India ने फिर Lancer Cedia भी लॉन्च की थी जो मुख्यतः अगले जनरेशन वाली Lancer थी, लेकिन उसने भी कभी मार्केट में उतने फैन्स नहीं बटोरे. अपने बेहतरीन परफॉरमेंस और हैंडलिंग के साथ Mitsubishi Lancer निश्चित ही अपने समय से बेहद आगे थी.

Maruti Kizashi

कभी Kizashi इंडिया में Maruti Suzuki की फ्लैगशिप प्रोडक्ट हुआ करती थी. ये कार चलाने में बेहद मजेदार थी. इसमें एक 2.4-लीटर पेट्रोल इंजन था जो अधिकतम 176 बीएचपी का पॉवर उत्पन्न करता था. इसके इंजन का साथ एक 6-स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन निभाता था. इसमें पैडल शिफ्टर्स के साथ ऑप्शनल CVT मिलता था. शायद Maruti Suzuki ने मार्केट को पढने में गलती कर दी और सस्ते डीजल के ज़माने में एक महंगी पेट्रोल-ओनली कार ले आई. लेकिन फिर भी, अपने परफॉरमेंस और फ्यूचरिस्टिक लुक्स के चलते ये कार निश्चित ही अपने समय से काफी आगे थी.

Tata Sierra

कॉम्पैक्ट SUV केटेगरी आने से बहुत पहले एक ऐसी ही गाड़ी लॉन्च हुई थी और वो थी Sierra. मस्कुलर लुक्स, 3 डोर SUV फॉर्म फैक्टर और 4X4 के साथ Sierra एक बेहतरीन गाड़ी थी. लेकिन ये कभी चल नहीं पायी क्योंकि इंडिया के लोग इतनी नायाब गाड़ी पैसे खर्च करने को तैयार नहीं थे. Sierra 2 लीटर डीजल और टर्बो डीजल इंजन के साथ मार्केट में उतारी गयी थी. पॉवर स्टीयरिंग वगैरह जैसे फ्यूचरिस्टिक फ़ीचर्स होने के बावजूद ये कार मार्केट में चल नहीं पायी. और इंडिया को कभी भी 3 दरवाज़ों वाली कार पसंद नहीं आती है. लेकिन, इस बात को मानना पड़ेगा की ये कार अपने समय के मुताबिक़ काफी मॉडर्न ज़रूर थी.

Reva

आज जब मार्केट में हर ओर इलेक्ट्रिक कार्स का शोर है, हर कोई Reva को याद करता है. लेकिन, आप इस बात को जानकर हैरान हो जायेंगे के Reva को इंडिया में असल में मार्केट में साल 2000 में आई थी. उस वक़्त जब आधा देश बिजली की समस्या से जूझ रहा था, ये कार वाकई में अपने समय से काफी आगे थी. कहने की ज़रुरत नहीं है की बड़े शहरों में भी ये कार कुछ ख़ास पॉपुलर नहीं हो पायी थी.

Maruti Suzuki Grand Vitara

अभी Vitara Brezza के चलते ‘Vitara’ नाम बाज़ार में काफी आम हो गया है. हालांकि Grand Vitara भारत में दो बार लॉन्च की गयी लेकिन ये ज्यादा चली नहीं. ये Maruti की एक बेहतरीन SUV थी और इसमें केवल 2.4 लीटर पेट्रोल इंजन का ऑप्शन था. और Kizashi की तरह ही इसके ऊंचे दाम और पेट्रोल इंजन के चलते मार्केट में इसके ज्यादा खरीददार भी नहीं थे. इसी कारण के आगे चल कर इसका नाम भी Maruti के भूली-बिसरी गाड़ियों में जुड़ गया. लेकिन, अपने समय के लिए ये गाड़ी निश्चित ही समय से आगे थी.