दिल्ली में 45 कार चालकों पर बुलबार का इस्तेमाल करने के कारण लगा जुर्माना

दिल्ली ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने उन कार चालकों पर जुर्माना लगाना शुरू कर दिया है जो अपनी कार्स में बुलबार का इस्तेमाल कर रहे हैं | पहली गलती के लिए 500 रूपए का जुर्माना लगाया जा रहा है और ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट मौके पर ही कार्स में से बुलबार हटा रही है | ये काम आने वाले दिनों में शुरू कर दिया जायेगा जब ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट इस गैरकानूनी वस्तु के विरुद्ध अपने अभियान को तेज़ करेगी |

ये है दिल्ली ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट का आधिकारिक बयान:

पूरी दिल्ली में 10 टीमें तैनात की गयी हैं ताकि उन कार चालकों पर जुर्माना लगाया जा सके जो अपनी कार्स में बुलबार का इस्तेमाल कर रहे हैं | चालकों पर 500 रूपए का जुर्माना लगाया गया है | आने वाले दिनों में अभियान को तेज़ किया जायेगा और इस काम के लिए और टीमें तैनात की जाएँगी |

बुलबार इस्तेमाल करने वालों के खिलाफ केवल दिल्ली में ही नहीं बल्कि तमिलनाडु में भी कार्यवाई की जा रही है | तमिलनाडु ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने पिछले हफ्ते सभी RTOs को नोटिस भेजा और कहा की जिन कार्स में बुलबार हैं उनका पंजीकरण नहीं किया जाए | ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने सभी RTOs से कहा है कि जो पंजीकृत कार्स और SUVs बुलबार का इस्तेमाल कर रही हैं उनके खिलाफ जुर्माना लगाया जाये |

आने वाले हफ़्तों में दुसरे राज्य भी दिल्ली और तमिलनाडु के नक्शेकदम पर चल सकते हैं और बुलबार वाली कार्स पर जुर्माना लगा सकते हैं | ये जुर्माना इसलिए लगाया जा रहा है क्योंकि सड़क परिवहन मंत्रालय ने सभी राज्य ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंटस को एक चिट्ठी लिखी हैं जिसमे बुलबार बैन करने को कहा गया है और साथ ही बुलबार वाली कार्स पर जुर्माना लगाने का आदेश दिया है |

मंत्रालय द्वारा भेजी गयी चिट्ठी के अनुसार, बुलबार की वजह से एयरबैग्स काम नहीं करते और इनसे सड़क पर पैदल चलने वालों और मोटरसाइकिल चालकों को काफी चोट लगती है | चिट्ठी में कहा गया है की बुलबार मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 52 के अंतर्गत गैरकानूनी हैं | इसमें लिखा है की मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 190 और 191 के अंतर्गत बुलबार वाली कार्स पर जुर्माना लगना चाहिए | चूंकि बुलबार के खिलाफ अब पुलिस अभियान तेज होगा, इसलिए बेहतर है की कार चालक जल्दी से जल्दी इन्हें अपनी कार्स से हटा लें |