आपकी कार का ग्राउंड क्लीयरेंस बढ़ाने के 3 सीधे तरीके

जहाँ हमारे देश का कार बाज़ार उभर रहा है वहीं देश की सड़कों की स्तिथि अभी भी दुनिया की कई उत्कृष्ट सड़कों से पीछे हैं. अगर हमारे यहाँ भी कई विकसित राष्ट्रों की तरह सड़के होतीं तो यह कहानी पूरी तरह से व्यर्थ होती। लेकिन भारतीय सड़कों की हालत उत्तम होने से मीलों दूर हैं. अटपटे ढंग से डिज़ाइन किए गए स्पीड-ब्रेकर से Tata Nano के अकार वाले गड्डों तक – हमारे यहाँ की सड़कों पर ड्राइव करना अक्सर एक बुरे सपने की तरह सकता है. ऐसे में ये चौकाने वाली बात नहीं है कि भारत में SUV की लेहर है. लेकिन अगर आप SUV नहीं ख़रीदना चाहते और अपनी मौजूदा कार से ही ख़ुश हैं तो उसका ग्राउंड क्लीयरेंस बढ़वाना एक अच्छा ख़याल होगा। पेश हैं तीन सीधे तरीके जिन्से आप ऐसा कर सकते हैं.

[इमेज : Gawker]

कॉइल स्प्रिंग्स के लिए असिस्टर्स

कार्स में 10-15 मिमी तक ग्राउंड क्लीयरेंस को बढ़ाने के लिए असिस्टर्स का उपयोग करना एक आसान तरीका है. असल में, assister एक एक्स्ट्रा प्लेटफार्म होता है जिसे कॉइल स्प्रिंग्स पर लगाया जा सकता है. Assister polyurethane का एक कॉइल्ड टुकड़ा होता है जिसे कॉइल स्प्रिंग सस्पेंशन की कॉइल के बीच में लगाया जाता है. Assister सस्पेंशन के उछाल को काम करता है जिससे सस्पेंशन धस्स जाने से बच जाता है और बदले में इससे कार की अंडरबॉडी पर चोट लगने सी भी बचती है. Assister कॉइल स्प्रिंग पर तीन अलग अलग जगाहों पर लगाया जा सकता है और हर जगह का कॉइल स्प्रिंग्स की परफॉरमेंस पर अलग ही असर पड़ता है. इन्हें कॉइल स्प्रिंग्स के ऊपर लगाने पर assister तमाम लोड कंडीशन्स पर काम करता है, बीच में लगाए जाने पर केवल नार्मल लोड कंडीशन्स में काम करता है. और नीचे लगाए जाने पर केवल फुल लोड की स्तिथि में काम करता है.

ये मॉडिफिकेशन किन कार्स पर काम करेगा

Assister किसी भी कॉइल स्प्रिंग सस्पेंशन की कार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. लेकिन ये HM Ambassador और Premium Padmini जैसी लीफ स्प्रिंग सस्पेंशन वाली कार्स में नहीं इस्तेमाल किया जा सकता।

लेकिन इसे कोई प्रॉब्लम नहीं है क्योंकि इन कार्स का उपयोग शायद ही किया जा रहा है और इन कार्स में ग्राउंड क्लीयरेंस की समस्या कभी आती नहीं। ज

कीमत और अवेलेबिलिटी ?

आप चार assisters का सेट केवल 4000 रूपए में ख़रीद सकते हैं. आम तौर पर assisters का एक सेट लगभग 50,000 किलोमीटर तक चल जाता है. आप इन्हें AutoRunner से ख़रीद सकते हैं.

मुझे Assisters के किन प्रभावों के बारे में जानने की आवश्यकता है?

जहाँ assisters से आप अपनी कार के सस्पेंशन को धसने से बचा सकते हैं, उन्हें इंस्टॉल करने से आपकी सस्पेंशन की वारंटी रद्द हो जाएगी। लेकिन आप सस्पेंशन वारंटी का दावा करने से पहले इन्हें हटा सकते हैं. साथ ही, इनका उपयोग सस्पेंशन की सेटिंग्स को बदल देगा। आपको अपनी कार चलाते वक्त पहले की तरह नहीं महसूस होगी इसलिए, जब आप assisters लगवाते हैं तो हम सावधानी से ड्राइव करने का अनुरोध करते हैं.

बड़े टायर्स और रिम्स

आपकी कार का ग्राउंड क्लीयरेंस बढ़ाने का एक और आसान तरीका है लम्बे रिम्स और बड़े टायर्स। ये कई तरीकों से किया जा सकता है. इनमें से एक है नए टायर्स का सेट लगवाना जिनकी टायर हाइट ज़्यादा हो. हालाँकि इसमें मौजूदा रिम्स ही इस्तेमाल किए जा सकते हैं. दूसरा तरीका है बड़े रिम्स भी लगा देना। हालाँकि इसमें आपको ध्यान रखना पड़ेगा कि ये नए बड़े टायर्स स्टीयरिंग पूरी तरह मोड़ने पर कार के फेंडर्स से नहीं छूलें। मिसाल के तौर पर 185/60 R14 सेक्शन टायर्स को 185/70 R14 सेक्शन टायर्स से बदलने पर आपको 10 एमएम का अतिरिक्त ग्राउंड क्लीयरेंस मिल जाएगा।

ये मॉडिफिकेशन कौनसी कार्स पर काम करेगा

लम्बे टायर और बड़े रिम्स लगभग सभी कार्स पर लगाए जा सकते हैं. भारत में बेची जाने वाली लगभग सभी कार्स को बड़े टायर और बड़े रिम्स से अपग्रेड किया जा सकता है.

कीमत और अवेलेबिलिटी ?

लम्बे टायर्स लगवाना बहुत महंगा विकल्प नहीं है। आप किसी भी नए टायर डीलर से अपने मौजूदा टायर के लिए अच्छी कीमत प्राप्त करने के बाद नए और पहले से बड़े टायर का एक सेट खरीद सकते हैं. इस तरह आपका ख़र्चा कुछ हद्द तक काम हो जाएगा। लेकिन आपको अपने मौजूदा टायर्स के अच्छे दाम तब ही मिलेंगे अगर वो टायर्स ज़्यादा इस्तेमाल किये हुए और ख़राब हालत में ना हों. यदि आपके मौजूदा टायर्स घिसे हुए या काफी इस्तेमाल किए हुए हों तो ज़्यादा उम्मीद ना लगाएं। ऐसे में दोनों रिम्स और टायर्स दोनों को बदलना और भी महंगा पड़ेगा।

मुझे किन प्रभावों के बारे में जानने की आवश्यकता है?

इन्हें लगवाने से शायद कार की सस्पेंशन वारंटी रद्द हो जाए. एक या दो आकारों के अपग्रेड से आमतौर पर सस्पेंशन पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है. हालांकि, नए टायर और रिम्स आपकी कार को संभालने के तरीके को बदल सकते हैं। आपको तदनुसार अपनी ड्राइविंग शैली बदलनी होगी। इसके अलावा, बड़े टायर कम माइलेज का कारण बन सकते हैं.

सख्त सस्पेंशन

Koni, Tein और Bilstein जैसे कुछ प्रतिष्ठित ब्रांड कई मास मार्केट कार्स के लिए सस्पेंशन अपग्रेड्स प्रदान करते हैं. ये आफ्टरमार्केट्स किट्स भी कई अड्जस्टेबिलिटी लेवल प्रदान करते हैं जिनसे इस्तेमाल करने वाला शक्स अपने अनुसार इन को सेट कर सकता है. सस्पेंशन को सख्त करने से सस्पेंशन के धंस जाने की चान्सेस काम हो जाती हैं. सवारी को थोड़ा नरम बनाकर, आप बहुत ही आरामदायक सवारी कर सकते हैं, जबकि सस्पेंशन को धंस से रोकने के लिए अभी भी पर्याप्त कठोरता है. सस्ते विकल्प सस्पेंशन को कठोर करते हैं लेकिन समायोज्य नहीं हैं.

ये मॉडिफिकेशन कौनसी कार्स में सफ़ल रहेगा ?

ये सस्पेंशन अपग्रेड किट्स Maruti Swift, Honda Jazz और Volkswagen Polo जैसी मार्केट में बिक रहीं अधिकांश कार मॉडल्स के लिए उप्लब्ध हैं.

कीमत और अवेलेबिलिटी ?

आप मूल सस्पेंशन अपग्रेड किट की कीमत लगभग 50,000 रूपए होने की उम्मीद कर सकते हैं. ये किट्स आपकी कार के सस्पेंशन को इतना करदेंगी कि आपकी कार की अंडरबेली स्पीड ब्रेकर्स पर ना छुले। आपको ये किट्स Red Rooster Racing और Methods Automotive जैसे किसी भी प्रसिद्ध कार कस्टमाइज़र्ज़ पर मिल जाएंगी।

मुझे किन प्रभावों के बारे में जानने की आवश्यकता है?

एक ऑफ्टरमार्केट सस्पेन्शन आपको स्टॉक यूनिट की तुलना में बेहतर परिणाम दे सकता है, लेकिन अपनी ड्राइविंग शैली के अनुरूप सही सस्पेन्शन किट चुनना मुश्किल होता है. इसलिए, हम आपको एक विशेषज्ञ की मदद लेने और अपनी खुद की आवश्यकताओं के अनुसार आफ्टरमार्केट सस्पेन्शन को प्राप्त करने और ट्यून कराने का अनुरोध करते हैं.