10 Idiot Motorcycle and Scooter Riders You'll Find on Roads

Motorcycle और Scooter चलाने वाले मूर्ख राइडर्स की 10 खूबियाँ…

China से आगे बढ़कर India two-wheelers के लिए सबसे बड़ा बाज़ार बन गया है. रोड पर चल रहे टू-व्हीलर राइडर्स की संख्या काफी बड़ी है. और करेले के ऊपर नीम चढ़े की बात तब होती है जब कुछ मोटरसाइकिल चालाक अपने दिमाग का इस्तेमाल नहीं करते. पेश हैं इंडिया के मूर्ख बाइक और स्कूटर चालकों की 10 ऐसी खूबियाँ.

रौंग वे में चलाने वाले

चूँकि टू-व्हीलर्स कार्स से कम चौड़ी होती हैं, मोटरसाइकिल राइडर थोड़ा फ्यूल बचाने के लिए रौंग वे में घुस जाते हैं और हर किसी की जान जोखिम में डाल देते हैं. रोड पर चल रहे ऐसे टू-व्हीलर राइडर्स से ख़ास तौर पर सतर्क रहना चाहिए. ऐसे राइडर्स आपको अधिकाँश हाईवे पर दिख जायेंगे लेकिन कुछ शहर के अन्दर भी दिख जाते हैं.

डीवाईडर पार करने वाले

ये बात सही है की एक टू-व्हीलर डीवाईडर को पार कर सकता है लेकिन इसका मतलब ये नहीं की उसे ऐसा करना चाहिए. थोड़ा फ्यूल बचाने और अपनी सहूलियत के लिए डीवाईडर को पार करने लगते हैं. हाईवे पर तेज़ रफ़्तार वाली गाड़ियों के लिए ऐसे डीवाईडर जम्प देखना और इनसे बचना काफी खतरनाक होता है.

विवर्स

रोड पर वीविंग काफी खतरनाक होती है, खासकर अगर आप टू-व्हीलर चला रहे हों. वीविंग से बाकी रोड इस्तेमाल करने वालों को दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है और अगर टू-व्हीलर राइडर किसी कारण से अपना संतुलन खो कर गिर पड़ता है, तो इससे एक भयानक हादसा हो सकता है. टू-व्हीलर राइडर्स को रोड पर वीविंग से हमेशा बचना चाहिए.

फुटपाथ पर चलाना

शहर में फुटपाथ पर बाइक चलाना एक बहुत बड़ी समस्या है. ट्रैफिक जैम या लाल सिग्नल के दौरान कई राइडर्स आगे बढ़ने के लिए सीधा फुटपाथ या साइकिल ट्रैक पर अपनी बाइक चलाने लगते हैं. इससे राहगीरों और रोड इस्तेमाल करने वाले दुसरे लोगों को बहुत दिक्कत होती है. और ऐसे लोग आगे जाकर रोड पर उतर आते हैं जिसके चलते जैम और भी बढ़ जाता है.

ORVMs इस्तेमाल ना करना

कई राइडर अपनी बाइक के लुक्स में चार चाँद लगाने के लिए अपने ORVMs हटा लेते हैं लेकिन ये काफी खतरनाक होता है. अपने पीछे से आ रही गाड़ियों के बारे में जानकारी न रखना बेहद खतरनाक हो सकता है. कई राइडर्स मुड़ने से पहले एक बार पीछे घूम कर भी नहीं देखते जिससे रोड पर चल रही बाकी गाड़ियों को खासी दिक्कत आती है.

रोड पर स्टंट करना

पब्लिक रोड पर स्टंट करना काफी खतरनाक होता है. कुछ लोग अपने काबिलियत का परिचय देने के लिए रोड का चुनाव करते हैं और इस बात का बिलकुल ध्यान नहीं रखते की उनकी ये हरकतें रोड पर चल रहे बाकी लोगों को भीषण दुर्घटना का शिकार बनाने के माद्दा रखती हैं. ऐसे स्टंट कई बार बहुत बड़ी गलती साबित होते हैं और एक्सीडेंट का कारण बनते हैं. रोड पर स्टंट करना युवा राइडर्स पर बुरा असर छोड़ता है जो ऐसी चीज़ें देख कर उन्हें दुहराने की कोशिश करते हैं और खुद को खतरे में डालते हैं.

बात करते वक़्त ग्रुप राइडिंग

एक ग्रुप में राइड करते वक़्त बातचीत करना एक बहुत बड़ी दिक्कत है. कई राइडर्स एक झुण्ड बना लेते हैं और रोड जाम कर धीरे-धीरे चलते हुए आपस में बातें करते हैं. इसमें अगर कोई अपना संतुलन खो बैठे तो एक्सीडेंट होने के चांसेस होते हैं. ऐसे झुण्ड रोड के ट्रैफिक को भी धीमा कर देते हैं.

बाइक रीडिंग के वक़्त फ़ोन इस्तेमाल करना

राइड करते वक्त फ़ोन का इस्तेमाल करना कई रोड इस्तेमाल करने वालों के लिए एक बड़ी दिक्कत है. कई टू-व्हीलर्स में बाइक को कण्ट्रोल करने के लिए दोनों हाथों की ज़रुरत होती है लेकिन जब एक हाथ में फ़ोन हो और दुसरे में गाड़ी का हैंडल, तब एक्सीडेंट का खतरा तो बढ़ ही जाता है.

ओवरलोडिंग

ओवरलोडिंग कार्स में भी एक बड़ी दिक्कत हैं लेकिन जब बात टू-व्हीलर्स की आती है, ये खतरा और भी बढ़ जाता है. कई लोग खासकर डेरी फार्म में काम करने वाले लोग दूध और दूसरी चीज़ों को लाने और ले जाने के लिए टू-व्हीलर्स का इस्तेमाल करते हैं. इसके चलते बाइक आसानी से अपना संतुलन खो सकती है और उसपर अतिरिक्त भार एक्सीडेंट का सबब बन सकता है.

हेलमेट सिर्फ पुलिसवालों के लिए है

टू-व्हीलर्स चलाते वक़्त हेलमेट बहुत ज़रूरी होता है. कई युवा हेलमेट को अपने हाथों में रखते हैं या उसे क्रैश गार्ड में लगा लेते हैं. जब उन्हें कोई पुलिसवाला नज़र आता है वो जुर्माने से बचने के लिए उसे तुरंत पहन लेते हैं. ये बहुत खतरनाक होता है क्योंकि पुलिस से बचते हुए उसी वक़्त पर हेलमेट पहनने से संतुलन बिगड़ सकता है और दुर्घटना हो सकती है.

×

Subscibe our Newsletter