10 ‘ऐतिहासिक’ बाइक्स जिन्होंने भारतीयों को सिखाया क्या है हवा से बातें करने का मतलब — Yamaha RD350 से लेकर KTM Duke 390

भारतीय ऑटोमोबाइल बाज़ार में ज्यादा माइलेज वाली गाड़ियों की हमेशा मांग रही है और उपभोक्ता इन्हें ख़ास पसंद करते हैं | मगर ऐसा भी कई बार हुआ है जब निर्माताओं नें कुछ ऐसी गाड़ियाँ लांच कीं जो गति के दीवानों के लिए ख़ास थीं | हम लायें हैं आपके लिए 10 ‘ऐतिहासिक’ बाइक्स जिन्होंने भारतीयों को सिखाया क्या है हवा से बातें करने का मतलब:

Yamaha RD350

RD350 आज भी कई कलेक्टर्स के गेराज में पाई जाती है | भारत की इस पहली परफॉरमेंस बाइक को बनाने के लिए Escorts और Yamaha ने साथ आने का फैसला किया था | ये ऐतिहासिक एडवांस्ड इंजीनियरिंग वाली बाइक 1983 में लांच की गयी थी | इसके नाम में RD का मतलब है Race Developed/Derived सीरीज और ये बाइक गति के दीवानों के लिए एक यादगार सपने से कम नहीं थी |
ये भारत में बनी पहली सामानांतर ट्विन सिलिंडर बाइक थी | इसमें 346cc 2-स्ट्रोक एडवांस्ड इंजन पोर्ट और 28 BHP (लो टार्क वैरिएंट) और 32 BHP (हाई टार्क वैरिएंट) वाला सामानांतर ट्विन सिलिंडर इंजन था | इस बाइक में 6-स्पीड मन्युअल ट्रांसमिशन था और ये अपने समय में देश की सबसे तेज बाइक थी | Yamaha ने भारतीय बाज़ार में कीमतें कम रखने के लिए कुछ बदलाव किये जैसे कि डिस्क ब्रेक हटाना मगर इससे गति के दीवानों के उत्साह में इस बाइक को लेकर कोई कमी नहीं आई |

Yamaha RX100

Yamaha ने RX100 कम बजट वाले गति के दीवानों को लुभाने के लिए की थी | इस 96-kg बाइक में 98.2cc 2-स्ट्रोक इंजन था जो अधिकतम 11 BHP उत्पन्न करता था | अपने तेज असिलिरेशन की वजह से ये दुसरे ग्येअर में भी व्हीलीस का कमाल दिखा सकती थी | ये पहली कुछ गाड़ियों में से थी जो उस वक्त 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार छु सकती थी | इस बाइक में CDI इग्निशन सिस्टम था जिसकी वजह से ये कहीं ज्यादा भरोसेमंद थी |

TVS Shogun

1990 की शुरुआत में बाइक्स की रफ़्तार तेज हो रही थी, खासकर जब Yamaha ने इस सेगमेंट में अपने पैर जमाना शुरू किये | TVS ने RX100 को टक्कर देने के लिए Supra लांच की थी मगर बाद में Suzuki के साथ हाथ मिलाकर TVS ने एक ताकतवर बाइक — Shogun — लांच की | ये गाड़ी काफी हल्की थी और इसमें 108cc का एक ताकतवर 2-स्ट्रोक इंजन था |
TVS ने इस गाड़ी के मामले में माइलेज की चिंता नहीं की | इस बाइक में TVS ने एडवांस्ड पोर्ट ज़ियोमेट्री का इस्तेमाल किया जिससे इंजन को 14 BHP पॉवर उत्पन्न करने में मदद मिलती थी मगर इससे माइलेज पर काफी बुरा असर पड़ा | इस गाड़ी के माइलेज केवल 25 किलोमीटर प्रति लीटर था मगर गति के दीवानों Shogun के 100 kg पैकेज में पॉवर-टू-वेट रेश्यो बहुत पसंद आया | Shogun के एग्जॉस्ट में एक अनूठी आवाज़ थी जो आज भी इसके दीवानों के लिए खुशनुमा यादें वापस ले आती है |

Yamaha RX-Z

Yamaha नें भारत में RX100 की सफलता के बाद RX-Z लांच की थी | ये बाइक 1990 में लांच की गयी थी और ये Yamaha RX-135 पर आधारित थी | इसमें RX-135 and RXG की ही तरह 132cc, एयर-कूल्ड, 2-स्ट्रोक इंजन था मगर ये कहीं ज्यादा पॉवर उत्पन्न करता था | इसका इंजन 7,500 RPM पर 14 BHP और 6,500 RPM पर 12 NM उत्पन्न करता था | इसकी अधिकतम गति 120 किलोमीटर प्रति घंटा थी |

इस बाइक में Yamaha ने लो-रेसोनेटिंग एग्जॉस्ट मफलर्स, फ्रंट डिस्क ब्रेक, टेलिस्कोपिक सस्पेंशन, और पीछे डुअल शॉक का इस्तेमाल किया था | इस बाइक को RD350 का निचला संस्करण माना जाता था | इसका 5-स्पीड ट्रांसमिशन इसे तेज गति के साथ साथ अच्छा माइलेज भी देता था |

Hero Honda CBZ

Hero Honda CBZ एक ऐसे समय लांच की गयी थी जब 2-स्ट्रोक इंजन धीरे धीरे बाइक्स की दुनिया में अपनी जगह बना रहे थे | CBZ के बारे में कहा जाता है कि इसने भारत में सस्ती 4-स्ट्रोक परफॉरमेंस बाइक सेगमेंट की शुरुआत करी | इस बाइक की डिजाईन काफी स्टाइलिश थी और ये युवाओं को काफी पसंद आई |

इसमें 156cc, 4-स्ट्रोक इंजन था जो 12.6 BHP पैदा करता था और ये बनता इस बाइक को Enfields के बाद सबसे ताकतवर गाड़ी | इसकी लुभावनी डिजाईन और चोड़े टायर्स ने लोगों का ध्यान आकर्षित किया |

Bajaj Pulsar 180

2001 में Bajaj ने Pulsar 150 और Pulsar 180 लांच की और इसी के साथ बाज़ार में इसके साथ ही बाज़ार में आये “Definitely Male” विज्ञापन | इसका 180cc संस्करण अपने लुक्स और परफॉरमेंस की वजह से बाज़ार में काफी लोकप्रिय हुआ | इसका 178cc engine अधिकतम 14.8 BHP और 13.2 NM टार्क उत्पन्न करता था और ये अपने समय की भारत की सबसे ताकतवर 4-स्ट्रोक बाइक थी |

Hero Honda Karizma

2001 में Pulsar की दो बाइक्स लांच करके Bajaj बाज़ार में काफी जगह बना चुका था | 2003 में Hero ने Karizma लांच की जो कि बिकर्स को काफी पसंद आई | Hero Honda की ये गाड़ी देश भर में कई युवाओं को लुभाने में सफल रही और ZMA — जैसा की इसे बुलाया जाता था — एक चर्चा का विषय बन गयी |

Karizma का 223cc 4-स्ट्रोक इंजन Honda motocross इंजन द्वारा विकसित किया गया था | ये सुपर स्मूथ और अत्यंत विश्वसनीय इंजन 17 BHP उत्पन्न करता था और इसका 5-स्पीड गियरबॉक्स आसानी से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार तक बाइक को ले जाता था | ये भारत की पहली स्पोर्ट्स टूर बाइक थी और अभी भी कई लोग इसे लम्बे सफ़र के लिए इस्तेमाल करते हैं |

Yamaha YZF-R15

जब परफॉरमेंस की बात आती है तो Yamaha ने भारतीय बाज़ार में समय समय पर ऐसी गाड़ियाँ लांच की हैं जो काफी सफल रही हैं | 2008 में इस जापानी कंपनी ने R15 लांच की और इसने वाकई दिखा दिया कि एक 4-स्ट्रोक इंजन क्या कर सकता है | Yamaha की लोकप्रिय 2-स्ट्रोक बाइक्स बाज़ार से जा चुकी थीं और R15 ने सुनिश्चित किया कि Yamaha का नाम एक बार फिर बाज़ार में चमके |
R15 के एडवांस्ड इंजन कई सारे फीचर्स थे — जैसे 4 वाल्वस, लिक्विड-कूलिंग और DiaSil बोर | इसका 150cc इंजन अधिकतम 16.8 BHP और 15 NM टार्क उत्पन्न करता था | इसमें 6-स्पीड ट्रांसमिशन था और बिगिनर्स के लिए डेल्टाबॉक्स के साथ ये एक परफेक्ट गाड़ी थी |

KTM 390 Duke

Yamaha RD350 के बाज़ार से जाने के बाद भारत के बाइक प्रेमियों को गाड़ी में वो दमदार एहसास फिर कभी नहीं मिला | 2013 ये सब तब बदल गया जब KTM में भारत में लांच की 390 Duke | ये सिंगल-सिलिंडर, लिक्विड-कूल्ड 373cc इंजन वाली बाइक 43 BHP पैदा करती थी | इसका 140 किलो वजन इस बाइक को उन लोगों की पहली पसंद बनाता था जो एक दमदार अनुभव की तलाश में थे | 390 Duke के कीमत भी ज्यादा नहीं थी और इसलिए बाज़ार में ये तुरंत एक बड़ी हिट साबित हुई |

Yezdi Roadking

Roadking 1990s में Royal Enfield Bullet ke एक ताकतवर 2-स्ट्रोक विकल्प के तौर पर सामने आई थी | इस बाइक की परफॉरमेंस और हैंडलिंग दोनों बढ़िया थीं | Roadking में 250cc 2-स्ट्रोक इंजन जो कि अधिकतम 16 BHP और 24 NM टार्क उत्पन्न करता था | इतनी ताकत के साथ ये 140 किलो की बाइक काफी अच्छा पिक-अप देती थी | ये भारत में पहली 2-स्ट्रोक परफॉरमेंस बाइक्स में से थी क्योंकि Jawa भी 350cc ट्विन-इंजन बाइक बाज़ार में लायी थी मगर अपनी ज्यादा कीमत के वजह से वो गाड़ी कभी लोकप्रिय नहीं हुई |